Tuesday, January 8, 2019

हिजामा हर व्यक्ति को लगावाना चाहिए

hijama guru
फास्ट फूड और मिलावटी चीजों के बढ़ते इस्तेमाल शरीर में बढ़ते विषैले तत्वों को निकालने के लिए हिजामा एक कारगर चिकित्सा है इस  चिकित्सा में शरीर में मौजूद विषैले तत्वों को प्लास्टिक से निर्मित कप द्वारा शरीर से बाहर निकाल दिया जाता है यह पैथी  सिंघी, श्रृंगी या जोंक चिकित्सा का ही  एक आधुनिक रूप है जैसे इन चिकित्सा में शरीर का गंदा खून बाहर निकाल लिया जाता था जिससे मनुष्य स्वस्थ हो जाता था यह चिकित्सा पूरे विश्व मे प्राचीन काल से होती आ रही है इसी चिकित्सा को हिजामा कपिंग थेरेपी के नाम से जानते हैं
इसी चिकित्सा को जब हमारे देवबंद के लहसवाड़ा स्थित इमदादी शिफा खाना हिजामा सेंटर पर सपा नेता हकीम अब्दुल वाहिद कुरेशी ने कराया उन्होंने अपने कुछ अनुभव पेश किए जिसे हम अपने पाठकों के लिए यहां प्रस्तुत कर रहे हैं
सपा नेता हकीम अब्दुल वाहिद कुरेशी ने बताया की नंबर एक तो यह हमारे नबी मोहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की सुन्नत है उन्होंने बताया कि मैं अपने घुटनों को लेकर कई साल से परेशान था जिन पर मैं काफी दवाई वगैरा लगा चुका था कुछ समय के लिए आराम मिल जाता था पर पूरा खत्म नहीं हो पा रहा था यह मेरे घुटनों  तकरीबन चार पांच साल पहले चारपाई में घिस  गए थे जो आज तक परेशानी की वजह बने हुए थे इन पर कुछ खाज  रहती थी और जख्म से हो जाते थे मैंने इन पर एक बार ही हिजामा करवाया और एक बार ही में मुझे बहुत ज्यादा आराम हुआ हिजामा में हुए दर्द के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा इसमें कोई भी दर्द मुझे नहीं हुआ हिजामा की मशीन देखकर पहले तो मैं यह समझा था पता नहीं मेरे साथ अब क्या होने वाला है पर जब मुझे उस मशीन से कप लगाए गए तो मुझे इसका कोई पता ही नहीं चला और ना दर्द महसूस हुआ उन्होंने बताया कि यह एक बेहतरीन चिकित्सा है जिसे सभी को कराना चाहिएयह
इटरव्यू आप इस लिंक पर भी देख सकते हैं

No comments:

गर्भाशय की सूजन Uterus Swelling

अक्सर लोगों को पेट में दर्द की समस्या होती है। कई बार ये दर्द लाइफस्टाइल में हुए बदलाव, मौसम में बदलाव और गलत-खान-पान के चलते होता है। लेक...