Friday, November 28, 2014

I AM "RAM" BUT I AM NOT A "DHONGI BABA"


संत , बाबा और राम जैसे पवित्र शब्दों का आज रामपाल ,आशाराम, नित्यानंद जैसे लोगों ने पूरी तरह बदनाम कर दिया है इन जैसे लोगों के कारण ही लोग अय्याशी करने वालो की मिसाल "ये तो आशाराम का भी बाप निकला " कह कर देने लगे है संत रामपाल और आशाराम बापू
जैसे कितने ही बाबा, स्वामी और अन्य ढोंगियों के कारण ही आज पूरा संत समाज ही अपने आपको ठगा महसूस कर रहा है लोग इन लोगो के कारण पूरे संत समाज को ही शक की निगाह से देखने लगे है उनकी यह छवि विश्व्यापी बनती जा रही है इंटरनेट ने विश्व को इतना छोटा कर दिया है कि हर खबर लम्हों मे कही की कहीं पहुंचती है भारत को आध्यात्मिक विश्व गुरु के रूप मे देखने वाले लोग समझ नहीं पा रहे है कि माजरा क्या है कल शायद नौबत यहाँ तक आ पहुंचे कि हर बाबा को स्पष्टीकरण देना पड़े कि "मेरा नाम राम है पर मे ढोंगी बाबा नहीं हूँ "

No comments:

लव जिहाद से लैंड जिहाद तक

 जिहाद से जुड़ी शब्दावली शायद कहीं खत्म हो ऐसा लगता नहीं है मुस्लिम विरोधी संगठन राजनीति में अपनी बढ़त के लालच में नए नए शब्द गढ़ते जा रहे ...