Monday, April 16, 2012

कै किलो कृपा चाहिए ?



मुल्क में अंधविश्वास का बोलबाला है। पढ़ाई लिखाई के बाद भी आदमी अंधविश्वास में फंसा हुआ है। ठग लोग बाबा बनकर लोगों को दुख दूर करने के आसान तरीक़े बता रहे हैं। ज्योतिषी लोग भी अंधविश्वास से लड़ने के दावे कर रहे हैं। कुंडलियां मिला रहे हैं भविष्य बता रहे हैं।
धर्म कब का जा चुका है,
अब अक्ल भी बाक़ी नहीं बची है।
सबके अपने अपने हित हैं।
ब्लॉगर्स मीट वीकली में इस बार इसी मुददे को उठाया गया है-
ब्लॉगर्स मीट वीकली (39) Nirmal Baba ki tisri aankh

निर्मल बाबा मुश्किल में हैं, भक्तों के लिए ईश्वर की कृपा का रास्ता खोलने वाले बेचारे बाबा अब खुद कृपा के लिए लाचार हैं। Solution :
Thumbnail

Quranic Morals / Values - Solution to Issues of World - Urdu

قرآنی اخلاق دنیا کے مسائل کا حل A great documentary in Urdulanguage, highlighting some of the major issues of the world, 


2 comments:

कुमार राधारमण said...

जब निर्मल निरूला को निर्मल बाबा बनाने में मीडिया की भूमिका भी संदिग्ध बताई जा रही हो,ऐसे में यह ब्लॉगिंग के लिए अच्छा अवसर है अपनी आर्थिक निर्लिप्तता को पुख्ता करने का।

DR. ANWER JAMAL said...

Nice .

गर्भाशय की सूजन Uterus Swelling

अक्सर लोगों को पेट में दर्द की समस्या होती है। कई बार ये दर्द लाइफस्टाइल में हुए बदलाव, मौसम में बदलाव और गलत-खान-पान के चलते होता है। लेक...