Tuesday, August 30, 2011

आओ ईद मनाएं , सब मिलजुल कर !!

ईद एक इस्लामी त्यौहार है. ईद का यह दिन  रमज़ान के बाद आता है। 
ताज्जुब की बात इस बार यह हुई कि लखनऊ से लेकर भारत के दूसरे हिस्सों तक बहुत जगह चांद देखा गया लेकिन देवबंद में चांद नज़र नहीं आया जबकि आसमान साफ़ है। दूसरी जगहों से मिली ख़बर और गवाहियों की बुनियाद पर उलमा ए देवबंद ने भी ईद का ऐलान कर दिया है। ईदगाह समेत कई मस्जिदों में भी ईद की नमाज़ अदा की जाएगी।
मुसलमान भाई ईद की नमाज़ से पहले फ़ितरह ज़रूर निकाल दें और फ़ितरह की रक़म वे किसी को भी दे सकते हैं, चाहे वह मुस्लिम हो या मुस्लिम न हो, बस वह ग़रीब होना चाहिए। वह भी नए कपड़े पहनेगा और हमारी ही तरह वह भी ख़ुदा की नेमतों से लुत्फ़ उठाएगा। 
जो मुसलमान इस महीने में अपने माल से ज़कात निकालते हैं, वे भी हिसाब लगाकर ज़कात दे दें। इसके बाद फिर सदक़ा वग़ैरह अलग से है और यह भी ग़रीबों के लिए ही है।
मुसलमानों को ध्यान देना चाहिए कि उनका पैसा ग़रीबों के पास ही पहुंचे जो कि मदद के मुस्तहिक़ हैं, अल्लाह का हुक्म यही है और इसे पूरा करने के बाद भी मुसलमान को डरते रहना चाहिए कि उसके हुक्म को पूरा करने में कोई कमी तो नहीं रह गई है।
अल्लाह अपना हक़ माफ़ कर सकता है लेकिन बंदों का हक़ वह माफ़ नहीं करेगा, यह उसने बता दिया है।
ईद का मतलब यही है कि ख़ुद भी ख़ुशी मनाओ और दूसरों को भी ग़म के अंधेरों से निकालो, जितना भी हो सके।
इस्लाम का रास्ता यही है।
क़ुरआन का फ़रमान यही है।
दुनिया को इसी रास्ते की तलाश है।
आओ ईद मनाएं , सब मिलजुल कर !!

9 comments:

Dr. Ayaz Ahmad said...

"सभी देशवासियों को ईद की मुबारकवाद!"

देवेन्द्र पाण्डेय said...

आपको भी ईद मुबारक।

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

"सभी देशवासियों को ईद की मुबारकवाद!"

सतीश सक्सेना said...

आपको व परिवार को ईद मुबारक हो डॉ अयाज अहमद !

अजय कुमार said...

ईद मुबारक हो |

Khushdeep Sehgal said...

ईद की दिली मुबारकबाद...

जय हिंद...

Sawai Singh Rajpurohit said...

ईद मुबारक आप एवं आपके परिवार को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ.एक ब्लॉग सबका

ईद पर विशेष अनमोल वचन

Shah Nawaz said...

आपको भी ईद-उल-फ़ित्र की बहुत-बहुत मुबारकबाद!

DR. ANWER JAMAL said...

सबको ईद मुबारक हो ।

लव जिहाद से लैंड जिहाद तक

 जिहाद से जुड़ी शब्दावली शायद कहीं खत्म हो ऐसा लगता नहीं है मुस्लिम विरोधी संगठन राजनीति में अपनी बढ़त के लालच में नए नए शब्द गढ़ते जा रहे ...