Thursday, June 17, 2010

गाँधी जी और हज़रत मुहम्मद सल्ल.

गाँधी जी का कथन है। " मुहम्मद साहब (सल्ल.) रुहानी पेशवा थे ब्लकि उन की शिक्षाए को सबसे बेहतर समझता हूँ किसी रुहानी पेशवा ने ईश्वर की बादशाहत का पैग़ाम ऐसा सही और माना जाने वाला नही सुनाया जैसा पैग़म्बर ए इस्लाम मुहम्मद साहब सल्ल. ने सुनाया।"

1 comment:

गर्भाशय की सूजन Uterus Swelling

अक्सर लोगों को पेट में दर्द की समस्या होती है। कई बार ये दर्द लाइफस्टाइल में हुए बदलाव, मौसम में बदलाव और गलत-खान-पान के चलते होता है। लेक...